सोमवार, 4 नवंबर 2019

जीवन आपा-धापी “एजिटे-शन” है ...


ठँडी मीठी छाँव कभी तीखा “सन” है
जीवन आपा-धापी “एजिटे-शन” है

इश्क़ हुआ तो बस झींगालाला होगा
“माइंड” में कुछ ऐसा ही “इम्प्रे-शन” है

मिलने पर तो इतने तल्ख़ नहीं लगते
पर “सोशल” मंचों पर दिखती “टेन्शन” है

बतलाता है अब “इस्टेटस” “सेल्फी” का
खुश है बच्चा या कोई “डिप्रे-शन” है

नव नूतन चन्दन वंदन है अभिनन्दन
विजय पर्व है जब जीता अभिनन्दन है

आधा खाली है तो आधा भरा हुआ   
खाली का बस खाली-पीली कृन्दन है

“ट्वीटर” “इन्स्टाग्राम” “फेसबुक” है गुरुकुल
ज्ञान पेलता गहरा अविरल चिंतन है

कभी “डिसीसिव” और कभी है “इन्क्लूसिव”
राजनीति में “टाइम” “ओबज़र्वे-शन” है

आशिक, उल्लू, शोदा, पागल, “लवर” गधा 
एक ही शब्द समूह “महा-गठबंधन” है 

53 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (05-11-2019) को   "रंज-ओ-ग़म अपना सुनाओगे कहाँ तक"  (चर्चा अंक- 3510)  पर भी होगी। 
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    -- 
    दीपावली के पंच पर्वों की शृंखला में गोवर्धनपूजा की
    हार्दिक शुभकामनाएँ और बधाई।  
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    जवाब देंहटाएं
  2. वाह सर.. नवीनतम सुंदर प्रयोग .... प्यूजन गज़ल बहुत बढ़िया है कुछ अलग हटकर तरोताज़ा सृजन।
    हर बंध सराहनीय है।

    जवाब देंहटाएं
  3. "ट्वीटर” “इन्स्टाग्राम” “फेसबुक” है गुरुकुल
    ज्ञान पेलता गहरा अविरल चिंतन है...वाहह बेहतरीन प्रस्तुति आदरणीय

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत खूब !! अभिनव प्रयोग !! लाजवाब सृजन ।

    जवाब देंहटाएं
  5. वाह साहब वाह, चकित कर दिया

    जवाब देंहटाएं
  6. बतलाता है अब “इस्टेटस” “सेल्फी” का
    खुश है बच्चा या कोई “डिप्रे-शन” है


    आशिक, उल्लू, शोदा, पागल, “लवर” गधा
    एक ही शब्द समूह “महा-गठबंधन” है

    पहली बात आज के जीवन का टेढ़ा आइना है और आखिरी पंक्तियाँ तो ज़बरदस्त सियासी टिप्पणी है.

    जवाब देंहटाएं
  7. अरे जनाब
    कमाल कर दिया
    ऐसा प्रयोग आप की कलम से बहुत अच्छा लगा सर।

    जवाब देंहटाएं
  8. जीवन आपा-धापी “एजिटे-शन” है
    वाह वाह...
    कमाल का सृजन...नये प्रयोग नये शब्द और नया सा समसामयिक गठबंधन...
    लाजवाब ...बस लाजवाब
    वाह!!!!

    जवाब देंहटाएं
  9. आशिक, उल्लू, शोदा, पागल, “लवर” गधा
    एक ही शब्द समूह “महा-गठबंधन” है
    कमाल, कमाल और बस कमाल !!!
    इस महा गठबंधन के बारे में तो कभी सोचा ही नहीं !

    जवाब देंहटाएं
  10. बतलाता है अब “इस्टेटस” “सेल्फी” का
    खुश है बच्चा या कोई “डिप्रे-शन” है
    हाँ सर ,माँ बाप को भी वही से पता चलता हैं अपने बच्चों के बारे में ,बहुत खूब ,लाजबाब सादर नमन

    जवाब देंहटाएं
  11. बहुत ही सुन्दर सृजन आदरणीय
    सादर

    जवाब देंहटाएं
  12. बस हुनरमंद होना चाहिए, कविताओं का सृजन तो आप कहीं से भी कर सकते हो कमाल की खूबी है आपकी बहुत अच्छा लिखा..!

    जवाब देंहटाएं
  13. ग़ज़लों के तो आप बादशा हैं ठहरे
    लेकिन ग़ज़ब आज का यह जो 'फ्यूज़न' है !
    बहुत बढ़िया नासवा जी ! आपकी कलम का जवाब नहीं !

    जवाब देंहटाएं
  14. जी नमस्ते,
    आपकी लिखी रचना बुधवार ६ नवंबर २०१९ के लिए साझा की गयी है
    पांच लिंकों का आनंद पर...
    आप भी सादर आमंत्रित हैं...धन्यवाद।

    जवाब देंहटाएं
  15. वाह क्या कहने ... बेहद शानदार और धारदार तरीके से गज़ल को पेश किया आपने ....बहुत बहुत बधाई

    जवाब देंहटाएं
  16. कभी “डिसीसिव” और कभी है “इन्क्लूसिव”
    राजनीति में “टाइम” “ओबज़र्वे-शन” है

    आशिक, उल्लू, शोदा, पागल, “लवर” गधा
    एक ही शब्द समूह “महा-गठबंधन” है

    वाह! व्यवस्था का करारा लप्पड़ जमाया है
    हर बार की तरह लाजवाब प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  17. ग़ज़लों के तो आप बादशा हैं ठहरे
    लेकिन ग़ज़ब आज का यह जो 'फ्यूज़न' है !
    ...बहुत बढ़िया सुंदर संकलन नासवा जी

    जवाब देंहटाएं
  18. आशिक, उल्लू, शोदा, पागल, “लवर” गधा
    एक ही शब्द समूह “महा-गठबंधन” है
    मजेदार शब्द :)

    जवाब देंहटाएं
  19. इश्क़ हुआ तो बस झींगालाला होगा
    “माइंड” में कुछ ऐसा ही “इम्प्रे-शन” है
    आशिक, उल्लू, शोदा, पागल, “लवर” गधा
    एक ही शब्द समूह “महा-गठबंधन” है
    वाह - वाह , जबरदस्त नया प्रयोग जो रोचक है , मनभावन है और आपकी काव्यात्मक प्रतिभा का सुंदर नमूना है | हार्दिक बधाईयाँ और शुभकामनायें | ये प्रयोग जारी रहें | नमन |

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. जी ये प्रयोग जीवन और समय की निरंतरता के सूचक हैं ... कोशिश जारी रखने की है ... आपका बहुत आभार ...

      हटाएं
  20. aapka article bahut hi achha hai.
    Me aapka har Ek Article Read karta Hu
    Aise Hi Aap Article Likhte Rahe
    Read More About Google Ka Meaning Kya Hai Aur Kisne Banaya In Hindi

    जवाब देंहटाएं

आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है